First Time Love Shayari In Hindi

First Time Love Shayari In Hindi, share it with your dear and loved ones and tell them how you feel about them.

1. Hindi Shayari for First Time Love , Dil ki anjuman

dil-ki-anjuman-hindi-shayari

Dil ki anjuman ka tum aaghaz ho.
Mere ansune geeton ka tum saaz ho.

दिल की अंजुमन का तुम आग़ाज़ हो |
मेरे अनसुने गीतों का तुम साज़ हो ||

Anjuman: Party, Gathering सभा

2. Love Relationship Shayari, Zubaa’n pe rakhna chahe

shayari-tum-dawat-ho

Zubaa’n pe rakhna chahe har pal, tum wo baat ho.
Zindagi ke panne pe agar ham kalam, to tum dawaat ho.

ज़ुबाँ पर रखना चाहे हर पल, तुम वो बात हो |
ज़िन्दगी के पन्ने पर अगर हम क़लम, तो तुम दवात हो ।।

3. Noor se bhar gaya hai

love-shayari-mera -ghar-aap-k-aane-se

Mera ghar aapke aane se noor se bhar gaya hai.
Meri aankho ka har armaan jaise pur ho gaya hai.

मेरा घर आपके आने से नूर से भर गया है |
मेरी आँखों का हर अरमान जैसे पुर हो गया हो ।।

Pur: Full  भरा हुआ

4. First Time Love Shayari in Hindi, Jo panno pe hai sawara

romantic-shayari-dil-me-utar-jaega

Hasrat hai unse baat karne ki, par alfaaz kahan se laye
Muddat hai bahut thodi si, par himmat kahan se laye
Chale gaye jo salaam kiye bagair, to dil khafa ho jayega
Jawab-e-salaam ka manzar kya phir adhoora rah jayega
Jo panno pe hai sawara tumhe wo aaj nahi to kal, tujhko pata chal jaega
Aaj mera chehra bhi nahi hai teri aankho me
Kal mera wujood tere dil me utar jaega.

हसरत है उनसे बात करने की, पर अल्फ़ाज़ कहाँ से लाए
मुद्दत है बहुत थोड़ी सी, पर हिम्मत कहाँ से लाए
चले गये जो सलाम किए बगैर, तो दिल खफा हो जाएगा
जवाब-ए-सलाम का मंज़र क्या फिर अधूरा रह जाएगा
जो पन्नो पे है सावरा तुम्हे वो आज नही तो कल, तुझको पता चल जाएगा
आज मेरा चेहरा भी नही है तेरी आँखो मे
कल मेरा वुजूद तेरे दिल मे उतार जाएगा ||

Muddat: A span of time  एक अरसे बाद

 

5. Love for the First Time: Aye Hamnawan- Hindi Shayari

Aye hamnawan tera aana abhi baqi hai
Hijr bahut hua ab vasl ki sham aana baqi hai

Tere rukhsaar ki hasi ka talabgaar hu
Teri aankhon me meri mohabbat aana abhi baqi hai

Pur-kashish aankho me aadayien to abhi bahut si hai
Par apne milan par tera haya se aankhien jhukana abhi baqi hai

Ek nai zindagi ka aagaaz abhi adhura hai
Intezar bahut hua ab tera deedar baqi hai.

Sukoon mil jae mere qalb ko teri seerat aur surat dekh kar
Ke meri zindagi ka aadha imaan abhi tujh se baqi hai.

ऐ हमनवां तेरा आना अभी बाक़ी है |
हिज्र बहुत हुआ अब वस्ल की शाम आना बाक़ी है ||

तेरे रुखसार की हसी का तलबगार हूँ |
तेरी आँखों मे मेरी मोहब्बत आना अभी बाक़ी है ||

पुरकशिश आँखो मे अदाएं तो अभी बहुत सी है |
पर अपने मिलन पर तेरा हया से आखें झुकना अभी बाक़ी है ||

एक नई ज़िंदगी का आगाज़ अभी अधूरा है |
इंतेज़ार बहुत हुआ अब तेरा दीदार बाक़ी है ||

सुकून मिल जाए मेरे कल्ब को तेरी सीरत और सूरत देख कर |
के मेरी ज़िंदगी का आधा ईमान अभी तुझ से बाक़ी है ||

Humnawa : Beloved जिससे प्यार हो
Hijr: Separation जुदाई
Vasl: Meeting (especially used in the context of lovers) मिलन
Rukhsaar: Cheeks गाल
Talabgaar: In Anticipation चाहने वाला
Pur-Kashish: Full of attraction मोहक
Aaghaaz: Starting शुरूवात
Qalb: Heart दिल
Seerat: Character चरित्र

6. Jab Aakhiri Dafa

Jab aakhiri dafa tera deedaar hua
Mat puch mujhse mera kya haal hua

Tera faasla mujhse bahot kam tha
Mere dil me ek tera hi gam tha

Jo ho na saka asl me, ab wo har shaam hoga
Teri baatein, tera muskurana mere khawabon me aam hoga

Teri aakhri nazar ab yaad bahot aayegi
Shayad kisi aur ki zindagi, teri zulfon ki chaown me kat jayegi

Tere husn ko panno par youn hi utara karunga
Phir usko padh kar, dil ko sahara karunga

Aap kitni hi dur jaake, jab bhi mere paas aayengi
Meri aankhon ko apna muntazir paayengi

Us lamhe ko qaid falaq ka chaand karega
Jab aap ki bahein meri bahon me aayengi.

जब आख़िरी दफ़ा तेरा दीदार हुआ |
मत पूछ मुझसे मेरा क्या हाल हुआ ||

तेरा फासला मुझसे बहुत कम था |
मेरे दिल मे एक तेरा ही गम था ||

जो हो ना सका अस्ल मे, अब वो हर शाम होगा |
तेरी बातें, तेरा मुस्कुराना मेरे खवाबों मे आम होगा ||

तेरी आखरी नज़र अब याद बहुत आएगी |
शायद किसी और की ज़िंदगी, तेरी ज़ुल्फ़ों की छाओं मे कट जाएगी ||

तेरे हुस्न को पन्नो पर यूही उतरा करूँगा |
फिर उसको पढ़ कर, दिल को सहारा करूँगा ||

आप कितनी ही दूर जाके, जब भी मेरे पास आएँगी |
मेरी आँखों को अपना मुंतज़िर पाएँगी ||

उस लम्हे को क़ैद फलक़ का चाँद करेगा |
जब आप की बाहें मेरी बाहों मे आएँगी ||

Muntazir:  Awaiting प्रतीक्षा करना

7.Hindi Shayari for First Time Love- Hazaron Adayein Lapete Hai

Hazaron adayein lapete hai gunjaan si zulfe uski
Haya ki dastan hai siyah chashmagi uski

Surkh labon ne warda ko bhi zer kar diya
Aisi dilkash hai saadgi uski

Zeb deti hai usko wo maathe ki bindiya wo haaton ki angoothi
Gar na bhi ho to ghati nahi khoobsoorti uski

Boli me ek mithaas hai chashni jaisi
Muskan me ek chamak hai chandni jaisi

Chehra uska shaffaaf hai, jaise aasma baad barish ke
Paarsa uska daaman hai, jaise heera baad tarash ke

Wo mansoob hai mujhse, abhi bas mere khayaalo me
Rab kare qubool hu mai usko dono jahano me

Tassavur gar mera sach ho jae, to mehar hai us RAB ki
Warna tabeer hai ye mere jhoote khawab ki, dar haqiqat wo kisi aur ki…

हज़ारों अदयें लपेटे है गुनजान सी ज़ूलफे उसकी |
हया की दास्तान है सियाह चश्मगी उसकी ||

सुर्ख लबों ने वरदा को भी ज़ेर कर दिया |
ऐसी दिलकश है सादगी उसकी ||

ज़ेब देती है उसको वो माथे की बिंदिया वो हातों की अंगूठी |
गर ना भी हो तो घटती नही खूबसूरती उसकी ||

बोली मे एक मिठास है चाशनी जैसी |
मुस्कान मे एक चमक है चाँदनी जैसी ||

चेहरा उसका शफ्फाफ है, जैसे आस्मा बाद बारिश के |
पारसा उसका दामन है, जैसे हीरा बाद तराश के ||

वो मंसूब है मुझसे, अभी बस मेरे ख़यालो मे |
रब करे क़ुबूल हूँ मै उसको दोनो जाहानो मे ||

तसव्वुर गर मेरा सच हॉ जाए, तो मेहर है उस रब की |
वरना तबीर है ये मेरे झूठे खवाब की , दर हक़ीक़त वो किसी और की ||

Gunjaan: Curly घुंघराले
Siyah Chashmagi: Black eyes काली आँखें
Warda: Rose गुलाब
Zer: To put someone or something down किसी को नीचा दिखना
Zeb: Looks good on someone किसी को शोभा देना
Gar: Means Agar in Shayari
Shaffaaf: Clean सॉफ
Mansoob: Appointed सम्बन्धित
Tassavur: Thought, Imagination कल्पना
Mehar: Blessing कृपा
Tabeer: Interpretation of dreams सपने की व्याख्या करना

This Post Has One Comment

  1. AB

    Ye shayari itni khoobsurat hai,
    To socho wo kitni khoobsurat hogi jiske liye likhi gayi hai…

Leave a Reply